05दिसम्बर से 25 दिसम्बर तक चलेगा क्रांतिवीरों का गौरवगाथा

*बिस्मिल की फांसी गोरखपुरियों के जेहन में आज भी है याद*

*05दिसम्बर से 25 दिसम्बर तक चलेगा क्रांतिवीरों का गौरवगाथा*

*ऐतिहासिकता को सुदृढ़ करता 20 दिवसीय बलिदानियों का मेला*

*गुरुकृपा संस्थान का भगीरथ प्रयास है, कार्यक्रमों  की श्रृंखलाबद्ध आयोजन*

*बृजेश त्रिपाठी द्वारा संकलित व संपादित 200 क्रान्तिकारियों की जीवनी को समेटे "आज़ादी के दीवाने" पुस्तक का होगा विमोचन*

*आकर्षण की केंद्र बिंदु होंगीं क्रांतिवीर राजेंद्र नाथ लाहिड़ी की भतीजी 80 वर्षीया श्रीमती गीता लाहिड़ी भारत माता पूजन, एक दिया शहीदों के नाम, तिरंगा मशाल यात्रा की मुख्य अतिथि*


देश का पहला, इकलौता व अनूठा बलिदानियों का मेला काकोरी कांड के महानायक पंडित राम प्रसाद बिस्मिल के बलिदान स्थली क्रांति की धरती गोरखपुर में  लगेगा जो की आयोजन का लगातार 12वां वर्ष होगा।  20 दिवसीय 5 दिसम्बर से 25 दिसम्बर2021 तक चलने वाले इस आयोजन में देश व प्रदेश के मूर्धन्यों का जमावड़ा लगेगा। शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल, कला, रंगमंच, संस्कृति और  साहित्य से जुड़े हस्तियों को सम्मानित किया जाएगा। 
उक्त जानकारी देते हुए
गुरूकृपा संस्थान एवं अखिल भारतीय क्रांतिकारी संघर्ष मोर्चा के अध्यक्ष
बृजेश राम त्रिपाठी ने कहा कि राष्ट्रभक्ति की अलख जीवन्त बनाये रखने एवं देश की एकता व अखण्डता के संकल्प को दिलोदिमाग पर अमिट छाप छोड़ने के क्रान्तिकारी उद्देश्यों की पहल में हॉकी, कुश्ती, जिम्नास्टिक, कबड्डी बॉलीबॉल जैसे खेल, सांस्कृतिक कार्यक्रमों में क्रांतिकारी गतिविधियों पर आधारित नाट्यमंचन, गायन, वादन, नृत्य, रंगोली, मेंहदी, प्रादेशिक वेशभूषा पर आधारित दुल्हन सजाओ प्रतियोगिताओं द्वारा विविध प्रकार के क्रियाकलाप होगा। 
*खेल व सांस्कृतिक कार्यक्रमों में होंगें ये आयोजन*
*खेल हॉकी, कुश्ती, जिम्नास्टिक, कबड्डी बॉलीबॉल सांस्कृतिक कार्यक्रम नाट्यमंचन, गायन, वादन, नृत्य, रंगोली, मेंहदी, प्रादेशिक वेशभूषा पर आधारित दुल्हन सजाओ प्रतियोगिता*
श्री त्रिपाठी ने जिला प्रभारियों की घोषणा करते हुए कहा कि गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, आजमगढ़, बलिया  मऊ, बस्ती,सिद्धार्थनगर और सन्तकबीरनगर सहित  उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से प्रतिनिधि आयोजक मण्डल के सदस्य बनाए गए हैं जो कि अपने जनपद में क्रांतिवीरों के कर्मभूमि पर देशभक्ति से ओतप्रोत अनेकानेक आयोजन का नेतृत्व करेंगे।
*पूरे प्रदेश से आयेगी देशभक्तों की टोली संगठन प्रमुख बृजेश राम त्रिपाठी ने घोषित किए नाम* *कार्यक्रम संयोजक/ प्रभारियों के नाम जनपदवार* 
*सिद्धार्थ नाथ सिंह विष्ट "काका" मेरठ, पी.एल. वर्मा आगरा, एडवोकेट सुभाष जोशी शाहजहांपुर, रामजी तिवारी बिठूर कानपुर,  आर.के. मिश्रा उन्नाव, प्रेमनाथ सिंह लख़नऊ, ई.श्रीकृष्ण शुक्ला प्रयागराज, सलीम जाफ़री (फैज़ाबाद) अयोध्या, राकेश वर्मा गोंडा, अशोक यादव बलिया, महेश चन्द दूबे सन्तकबीरनगर, उमेश राय बस्ती एवं सिद्धार्थनगर, चंद्रेश्वर सिंह कुशीनगर, जयराम सिंह पटेल और शम्भू नाथ मिश्रा देवरिया, शुभम त्रिपाठी और अजय श्रीवास्तव महराजगंज*

साहित्यिक कृतियों पर आधारित द रीयल हीरो ऑफ सोसायटी स्मारिका का प्रकाशन और विशिष्ट व्यक्ति सम्मान समारोह में 
बलिदानियों के चित्र प्रदर्शनी लगाने के साथ ही 
बृजेश राम त्रिपाठी द्वारा संकलित व संपादित 200 क्रान्तिकारियों की जीवनी को समेटे आज़ादी के दीवाने शीर्षक पुस्तक का विमोचन किया जाएगा।

राजेंद्र नाथ लाहिड़ी की भतीजी 80 वर्षीया श्रीमती गीता लाहिड़ी कोलकाता से बतौर मुख्यातिथि सपरिवार शामिल होंगी जिनके करकमलोंद्वारा भारत माता पूजन, एक दिया शहीदों के नाम, तिरंगा मशाल यात्रा का शुभारंभ किया जाएगा।
विभिन्न सामाजिक, व्यवसायिक संस्थाओं के पदाधिकारी व प्रतिनिधियों सहित NCC, NSS, स्काऊट गाईड, रोवर रेंजर्स के कैडेट्स बलिदानी मेले का कमान सम्हालेंगे

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ